. कमलेश चंद्र समिति के बारे में | ग्रामीण डाक सेवक जीडीएस कमेटी


कमलेश चंद्र समिति : यह भारतीय डाक विभाग से सम्बंधित समिति है. सरकार ने 01 जनवरी 2016 को ग्रामीण डाकघर के कर्मचारियों यानि ग्रामीण डाक सेवकों के वेतन भत्ते और उनके सेवा नियमावली पर पुनर्विचार करने के लिए श्री कमलेश चन्द्र के अध्यक्षता में एकल सदस्यीय समिति 'कमलेश चंद्र समिति' का गठन किया था. इस समिति में एक अन्य बाह्य सदस्य श्री टी.क्यू. मोहम्मद भी शामिल थे जोकि समिति के सचिव के रूप में अध्यक्ष को सलाह देने का कार्य कर रहे थे.

श्री कमलेश चन्द्र डाक सेवा बोर्ड के सेवानिवृत्त सदस्य हैं, कमलेश चंद्र समिति ने अपनी रिपोर्ट में ग्रामीण डाक सेवकों के लिए कई सकारात्मक सुझाव सरकार को दिए हैं, जिनके बदौलत आज ग्रामीण डाक सेवकों की वित्तीय सम्बंधित समस्या का बहुत हद तक समाधान हो पाया है. कमलेश चंद्र समिति के सुझाव निम्नलिखित है -

कमलेश चंद्र समिति के सुझाव (केवल महत्वपूर्ण) -
  • जीडीएस एमसी (GDS MC) का नाम बदलकर सहायक शाखा डाकपाल (ABPM) करना.
  • शाखा डाकपाल को न्यूनतम 12000 रूपये प्रतिमाह व सहायक शाखा डाकपाल को न्यूनतम 10000 रूपये प्रतिमाह वेतन प्रदान करना.
  • जीडीएस के सेवानिवृत्त के समय मिलने वाली ग्रेचुएटी राशि को 5 लाख रूपये करना.
  • जीडीएस कार्यों को दो श्रेणी में बाँटना, 4 घंटे की ड्यूटी लेवल 1 व 5 घंटे की ड्यूटी लेवल 2.
उपरोक्त सुझाव के अलावा अन्य कई सुझाव कमलेश चंद्र समिति द्वारा केंद्र सरकार को दी गयी थी, जिसमें से अधिकांश सुझावों को सरकार ने स्वीकार कर लिया है व लागू भी कर दिया है हालाँकि कुछ सुझाव अभी तक लागू नहीं किये जा सके हैं.


उपरोक्त लेख से हम यही कह सकते हैं कि कमलेश चंद्र समिति ग्रामीण डाक सेवकों के कल्याणार्थ हेतु बनायी गयी समिति थी, जिसे ग्रामीण डाक सेवक समिति या जीडीएस समिति कमेटी भी कहते हैं.
पिछला प्रश्न अगला प्रश्न